पहल

मुख्य पृष्ठ  »  कुंभ आकर्षण  »  पहल

पुलिस विभाग ने आगामी दिव्य एवं भव्य कुम्भ 2019 हेतु आधुनिकता को अपनाया है। कुम्भ मेले में तैनात किए जाने पुलिस कर्मचारियों को विभिन्न प्रकार का प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। श्रद्धालुओं के प्रति कर्मचारियों के कौशल एवं आचरण को बेहतर बनाने हेतु भी प्रशिक्षण एवं कर्मचारियों को योग एवं ध्यान लगाने (मेडिटेशन) हेतु भी प्रशिक्षण प्रदान किया गया है। पुलिस कर्मचारी श्रद्धालुओं को पार्किंग एवं रास्तों से संबंधित विभिन्न जानकारी भी प्रदान करेंगे।

इसके अतिरिक्त स्नान घाट से 2-5 किमी के अंदर पार्किंग की सुविधा मुहैया कराई गई है, जिससे श्रद्धालुओं के ज्यादा पैदल न चलना पड़े। श्रद्धालुओं की सुरक्षा के दृष्टिकोण से प्रथम बार फ्लोटिंग रिवर लाइन एवं बैरीकेटिंग को भी स्नान घाट पर स्थापित किया जा रहा है, जिससे कोई भी श्रद्धालु गहरे पानी तक न जा सके।

इसके साथ ही भीड़ नियंत्रण में अपनाया गया बड़ा बदलाव यह है कि भीड़ को रस्सी एवं वीडियो एनालिटिक्स के माध्यम से नियंत्रित किया जाएगा। किसी प्रकार से डंडा/छड़ी के इस्तेमाल को नजरअंदाज किया जा रहा है।

सबसे प्रथम बार भीड़ को नियंत्रित करने एवं निगरानी हेतु कुम्भ में ड्रोन का प्रयोग किया जाएगा। इस उद्देश्य से विशेष प्रकार का कमांड एवं नियंत्रण केंद्र भी स्थापित किया जा रहा है, साथ ही विशेष रूप से फायर फाइटर को भी इस हेतु तैनात किया जा रहा है, जो फायर पोस्ट पर आधुनिक अग्नि उपकरणों से लैस होंगे। प्रशासन द्वारा ऐसे प्रबंध भी किए गए हैं जिससे जनता को मूल अग्नि सुरक्षा सुविधाओं से जागरुक कराया जा सके। किसी प्रकार की दुर्घटना से बचने के लिए नुक्कड़ नाटक का भी आयोजन किया जाएगा।

उक्त कुछ ऐसी पहल हैं जो पुलिस विभाग द्वारा कुम्भ 2019 हेतु शुरु की जा रही हैं।


हेल्पलाइन नम्बर :100